Business

Kachchi Haldi Ke Fayde in Hindi I कच्ची हल्दी के फायदे I Gharelu Ilaj

 Kachchi Haldi Ke Fayde in Hindi I कच्ची हल्दी के फायदे I Gharelu Ilaj


Kachchi Haldi Ke Fayde in Hindi I कच्ची हल्दी के फायदे I Gharelu Ilaj

यूं तो कच्ची हल्दी का इस्तेमाल हर मौसम में फायदेमंद है लेकिन सर्दी के मौसम में कच्ची हल्दी का उपयोग सबसे अधिक लाभदायक है और यह समय हल्दी के अमूल्य गुणों से लाभ उठाने का है क्योंकि कच्ची हल्दी में हल्दी पाउडर की तुलना  में ज्यादा गुण होते हैं। आपको यह जानकर हैरानी होगी कि कच्ची हल्दी के इस्तेमाल के दौरान निकलने वाला रंग हल्दी पाउडर की तुलना में काफी ज्यादा गाढ़ा और पक्का होता है। कच्ची हल्दी दिखने में अदरक की ही तरह होती हैऔर यह भी एक  रूट प्लांट है जिसे बाद में प्रॉसेस कर पाउडर बनाया जाता है जो मार्केट में बिकता है। कच्ची हल्दी में किसी तरह की मिलावट नहीं होती इसलिए ये सेहत के लिए फायदेमंद होती है। कहा जाता है कि किसी भी प्रॉडक्ट को उसके रॉ फॉर्म में यूज करना फायदेमंद होता है। सर्दी के मौसम में दूध-हल्दी पीना हो तो कच्ची हल्दी का इस्तेमाल करें। पोषक तत्वों से भरपूर कच्ची हल्दी आपको कड़कड़ाती ठंड से बचाकर बॉडी को गर्म रखेगी।हल्दी में पाया जाने वाला करक्युमिन (Curcumin) एक बेहद फायदेमंद कम्पाउंड है जिससे neurodegenerative diseases और डायबीटीज में राहत मिलती है। ये कम्पाउंड कच्ची हल्दी में ज्यादा मात्रा में पाया जाता है। हल्दी पाउडर में प्रोसेसिंग के दौरान ये कम्पाउंड निकल जाता है।
औषधीय गुणों से भरपूर हल्दी ऐंटी बैक्टिरियल, ऐंटी वायरल, ऐंटी फंगल और ऐंटा इन्फ्लेमेट्री गुणों से भरपूर होती है। लेकिन हम में से ज्यादातर लोग बाजार में बिकने वाली हल्दी पाउडर का ही इस्तेमाल करते हैं। लेकिन अगर आप जानते हैं कि बाज़ार में मिलने वाले हल्दी पाउडर में भारी मात्रा में आर्टिफिशियल कलर और मिलावट होती है और कच्ची हल्दी में इस प्रकार की मिलावट नहीं पाई जाती तो आप भी आज से ही कच्ची हल्दी का इस्तेमाल शुरू कर दें।  आप किसी भी तरीके से इस्तेमाल करें चाहे खाना बनाने में यूज करें या दूध में मिलाकर पिएं, इससे आपको अधिक फायदा होगा और किसी प्रकार का नुकसान नहीं होगा। तो  आइये अब जानते हैं कच्ची हल्दी के औषधिये गुणों के बारे में -

Kachchi Haldi Ke Fayde in Hindi I कच्ची हल्दी के फायदे I Gharelu Ilaj

अंजीर के फायदे नुक़सान और खाने के तरीक़े-Benefits, Side Effects and How to Eat Fig in Hindi

Kachchi Haldi Ke Fayde in Hindi I कच्ची हल्दी के फायदे I Gharelu Ilaj

जुकाम में फायदेमंद है हल्दी वाला दूध:

बचपन में सर्दियों में नानी-दादी घर के बच्चों को सर्दी के मौसम में रोज हल्दी वाला दूध पीने के लिए देती थी। हल्दी वाला दूध जुकाम में काफी फायदेमंद होता है।  रात को सोने से पहले इसे पीने से तेजी से आराम पहुचता है.इसकी एंटी इंफ्लेमेटरी प्रॉपर्टीज सर्दी, खांसी और जुकाम के लक्षणों में आराम पहुंचाती है.


खांसी में बहुत लाभदायक हैकच्ची हल्दी:

                                                        

अगर खांसी किसी भी दवा से ठीक न हो रही हो और इलाज कर कर के थक गए हो तो इसका इस्तेमाल इस प्रकार करें की एक कच्ची हल्दी को चूल्हे पर भून कर पीस लें 2 से 3 ग्राम सुबह शाम इस्तेमाल करें।  

सुखी खांसी में गुनगुने दूध के साथ लें और अगर बलगम वाली खांसी है तो गुनगुने पानी के साथ। यह सर्दी ज़ुकाम और खांसी में बहुत लाभदायक है। 

 

कच्ची हल्दी से डाइजेशन होगा बेहतर :

 सर्दियों में हेवी मील आपके डाइजेस्टिव सिस्टम के लिए नुकसानदेह होता है। लेकिन कच्ची हल्दी के सेवन से आपका डाइजेस्टिव सिस्टम इम्प्रूव होता है क्योंकि कच्ची हल्दी पित्त के प्रॉडक्शन को बढ़ाती है और ये अच्छे डाइजेशन के लिए काफी जरूरी है।


जोड़ों के दर्द में फायदेमंद है कच्ची हल्दी:

 कच्ची हल्दी में ऐंटी-इन्फ्लेमेट्री गुण पाया जाता है। जिससे जोड़ों के दर्द में राहत मिलती है। सर्दी के मौसम में ठंड के कारण लोगों में जॉइंट पेन की समस्या काफी कॉमन है। कच्ची हल्दी इस दर्द से आपको आराम दिलाती है। इसके अलावा कच्ची हल्दी को अगर सर्दी में सूप, सब्जी या गर्म दूध के साथ लिया जाए तो ये सेहत के लिए फायदेमंद साबित हो सकता है।

Kachchi Haldi Ke Fayde in Hindi I कच्ची हल्दी के फायदे I Gharelu Ilaj

अंजीर के फायदे नुक़सान और खाने के तरीक़े-Benefits, Side Effects and How to Eat Fig in Hindi

Kachchi Haldi Ke Fayde in Hindi I कच्ची हल्दी के फायदे I Gharelu Ilaj


मधुमेह में फायदेमंद है कच्ची हल्दी:

 कच्ची हल्दी में इंसुलिन के स्तर को संतुलित करने का गुण होता है। इस लिये यह मधुमेह रोगियों के लिए बहुत फायदेमंद होती है। इंसुलिन के अलावा कच्ची हल्दी ग्लूकोज को भी कण्ट्रोल करती है जिससे मधुमेह के दौरान दी जाने वाली उपचार का असर बढ़ जाता है। अगर आप जो  दवाइयां ले रहे हैं बहुत बढ़े हुए स्तर (हाई डोज) की हैं तो हल्दी के उपयोग से पहले चिकित्सकीय सलाह अत्यंत आवश्यक है।

 इम्युनिटी बूस्ट करती है कच्ची हल्दी :

  शोध से साबित हो चका है कि हल्दी में लिपोपॉली सेच्चाराइड नाम का तत्व होता है इससे शरीर में इम्यून सिस्टम मजबूत होता है। हल्दी शरीर में मौजूद बैक्टेरिया की समस्या से बचाती है। यह बुखार होने से रोकती है। और इसमें शरीर को फंगल इंफेक्शन से बचाने के गुण भी पाये जाते है।  कच्ची हल्दी से बनी चाय अत्यधिक लाभकारी पेय है। इससे इम्यून सिस्टम मजबूत होता है।


 त्वचा को चमकदार और स्वस्थ रखती है कच्ची हल्दी:

. कच्ची हल्दी में एंटीबैक्टीरियल और एंटी सेप्टिक गुण होते हैं। इसमें इंफेक्शन से लडने के गुण भी पाए जाते हैं। इसमें सोराइसिस जैसे त्वचा संबंधि रोगों से बचाव के गुण भी होते हैं। 

. हल्दी का उपयोग त्वचा को चमकदार और स्वस्थ रखने में बहुत कारगर है। यही कारण है कि बहुत सी फार्मास्यूटिकल कम्पनी फेस क्रीम में हल्दी का इस्तेमाल करती हैं इसके अलावा हल्दी के एंटीसेप्टीक गुण के कारण भारतीय संस्कृति में विवाह के पूर्व पूरे शरीर पर हल्दी का उबटन  भी लगाया जाता है। 


 हिर्दय  रोग में फायदेमंद है हल्दी:

  हल्दी के लगातार इस्तेमाल से कोलेस्ट्रोल सेरम का स्तर शरीर में कम बना रहता है। कोलेस्ट्रोल सेरम को नियंत्रित रखकर हल्दी शरीर को ह्रदय रोगों से सुरक्षित रखती है। 

 

लीवर हेल्थ के लिये फायदेमंद है कच्ची हल्दी:

 शोध से साबित होता है कि हल्दी लीवर को भी स्वस्थ रखती है। हल्दी के उपयोग से लीवर सुचारु रुप से काम करता रहता है।


वज़न कम करती है कच्ची हल्दी :

हल्दी में वजन कम करने का गुण पाया जाता है। इसका नियमित उपयोग से वजन कम होने की गति बढ़ जाती है।

कैंसर से बचती है कच्ची हल्दी: 

. कच्ची हल्दी में कैंसर से लड़ने के गुण होते हैं। यह खासतौर पर पुरुषों में होने वाले प्रोस्टेट कैंसर के कैंसर सेल्स को बढ़ने से रोकने के साथ साथ उन्हें खत्म भी कर देती है। यह हानिकारक रेडिएशन के संपर्क में आने से होने वाले ट्यूमर से भी बचाव करती है। 

साइडइफेक्ट्स:

हल्दी विस्मयकारी गुणों से भरपूर है परंतु कुछ लोगों पर इसके विपरीत प्रभाव पड़ सकते हैं। जिन लोगों को हल्दी से एलर्जी है उन्हें पेट में दर्द या डायरिया जैसे लक्षण सामने आ सकते हैं। गर्भवती महिलाओं को कच्ची हल्दी के उपयोग से पहले चिकित्सकीय सलाह ले लेनी चाहिए। इससे खून का थक्का जमना भी प्रभावित हो सकता है जिससे रक्त का बहाव बढ़ जाता है अत: अगर किसी की सर्जरी होने वाली हो तो उन्हें कच्ची हल्दी का सेवन नहीं करना चाहिए।  

Kachchi Haldi Ke Fayde in Hindi I कच्ची हल्दी के फायदे I Gharelu Ilaj

अंजीर के फायदे नुक़सान और खाने के तरीक़े-Benefits, Side Effects and How to Eat Fig in Hindi

Kachchi Haldi Ke Fayde in Hindi I कच्ची हल्दी के फायदे I Gharelu Ilaj



एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ